हास्य शायरी संग्रह

दोस्तों के बीच में हंसी-मजाक आम तौर पर चलती रहती है। इसके लिए अक्सर चुटकुले सुनाए जाते हैं। लेकिन यदि किसी हँसी-मजाक वाली बात को हास्य शायरी के अंदाज में कहा जाए तो बात ही कुछ और है। वैसे भी हँसाना – मुस्कुराना जिंदगी में बहुत जरूरी है। साहित्यिक मंचों की बात करें या सिनेमा की, हँसने – हँसाने के बहुत सारे तरीके काम में लिए जाते हैं। जैसे हास्य डायलॉग, मूर्खों के कारनामे आदि।

और जब हँसने – हँसाने वाली बात को शायरी में पेश किया जाए तो आनन्द दोगुना हो जाता है क्योंकि एक तो शायरी और वो भी हँसी के लिए अर्थात हास्य शायरी। आपकी सेवा में हास्य शायरी का एक अद्भुत संग्रह पेश है –

जब छोड़ जाएँ सब तुमको हमसे बात कर लेना।
मैं एक कबाड़ी हूँ, बस इतने में ही समझ लेना।।

आस्तीन चढ़ी हुई।
दाढ़ी बढ़ी हुई।।
टूटे बटन कमीज के।
लक्षण तमीज के।।
ये बताते हैं कि आप औरों से जुदा हैं।
मतलब आप शादीशुदा हैं।।

मौहब्बत तो बेपनाह उनसे करते हैं हम।
दिन-रात देख-देख खूब मरते हैं हम।।
बेरोजगारी ने हमें छोड़ा न कहीं का,
इसीलिए तो शादी से यार डरते हैं हम।।

हमारी दोस्ती जुकाम-खाँसी नहीं, जो आकर वापिस चली जाए।
ये तो एड्स है जो एक बार लग जाए तो जीवन भर साथ निभाए।।

दहेज लेकर की है शादी, सोचते हो ध्यान करेगी।
खरीदी हुई चीज है, लिहाजा परेशान तो करेगी।।

दोस्ती की शायरी

कभी जिनकी अदाओं पे मरती थी दुनिया, आज वो भी एक नजर को तरस रहे हैं।
जो खाते थे अखरोट दातों से तोड़कर, आज उबले चावल भी साबुत निगल रहे हैं।।

चीज एक नस्ल अनेक हैं।
असल एक नकल अनेक हैं।।
जती-सती दो चार हैं,
और भगचल अनेक हैं।।

मैं मानव को इंसान बना दूँगा।
पत्थर को पाषाण बना दूँगा।।
मरघट को श्मशान बना दूँगा।
ईश्वर को भगवान बना दूँगा।।

यदि आप भी हास्य शायरी लिखते हैं तो कृपया हमें प्रकाशित करने के लिए भेजें।

चींटी का धक्का मच्छर की लात।
बचे तो बचे, बचे ना बात।।

मुखर हो जाइए।
बद नजर हो जाइए।।
जवानी की बातों में,
बद जिगर हो जाइए।।

प्यार मौहब्बत की शायरी

कुछ इस तरह मेरी जवानी के चर्चे हैं।
कि लोग मुझ पर बहुत शक करते हैं।।
पर हम भी ऐसी जिंदगी जीते हैं,
कि अपनी ही मनचाही करते हैं।।

अगर तू साथ है मेरे दिल आबाद है मेरा।
कह दे तू अपने पिता से कि वो दामाद है तेरा।।

इतना न मुस्कुराओ वरना गधे भी इंसान हो जाएँगे।
इतना न इठलाओ वरना बूढ़े भी जवान हो जाएँगे।।

इन हास्य शायरियों को पढ़कर आपको कैसा लग रहा है? सभी हास्य शायरियों को पढ़कर कृपया प्रतिक्रिया (comment) अवश्य देना।

दिल दिया जाता है किसी एक को।
वो भी किसी इंसान नेक को।।
ये मंदिर का प्रसाद तो है नहीं,
जो बाँट दूँ हरेक को।।

अनुशासन देश को महान बनता है।
लड़का ही लड़की को जवान बनता है।।

रवैया (Attitude – एटीट्यूड) शायरी

सितारे आसमान से चमकते हैं।
बादल दूर से ही बरसते हैं।।
हम भी अजीब हैं, आप दिल में हैं,
और हम मुलाकात को तरसते हैं।।

हम वो वीर हैं जो वीर वीरता का निशां छोड़ देते हैं।
जिस गली में भोंकते हैं कुत्ते, वहां आना-जाना छोड़ देते हैं।।
जो देखता है हमें गुस्से से उसके लिए हाथ जोड़ देते हैं,
जो करे लड़ाई की बात उससे मुँह मोड़ लेते हैं।।

धरती पर रहकर चला है अम्बर को थामने।
जानते हैं, औकात क्या है बिल्ली की शेर के सामने।।

इसी प्रकार, हम और भी हास्य शायरी आपकी सेवा में प्रस्तुत करते रहेंगे।

आप मेरी जिंदगी में इस तरह आई हो।
जैसे बाजरे के खेत में झोटी घुस आई हो।।
झोटी = जवान भैंस

आजकल मेरा दोस्त बहुत खुश नजर आता है।
अपनी ही गली में अपना मकान भूल जाता है।।

दोस्त, क्यों सोए हुए हो पीकर कुत्तों के साथ,
क्या इनकी वफादारी का तुम्हें एहसास हो गया।

मयखाने वाला तो चला गया ससुराल।
मय पीने वालो अब तुम भी करो हड़ताल।।

 

प्रतिक्रिया दें

संपर्क में रहें
     
नई पोस्ट ईमेल पर पाएँ